चुनाव आते ही सभी राजजीतिक पार्टियों में प्रचार प्रसार का सिलसिला शुरू हो जाता है. सभी पार्टियों के नेता अलग अलग पैंतरे आजमा कर जनता से वोटों की अपील करते हैं. आपने कई नोताओं को घर घर जाकर वोट के लिए अपील करते देखा होगा. कोई नेता खुद को जनता का सेवक कहता है तो कोई देश का सेवक. लेकिन इस बार एक नोताजी ऐसे भी सामने आए जो खुद को भगवान बताते हुए लोगों से वोट अपील कर रहे थे.

जी हां भगवान का रूप धारण करने वाले ये नेता जी महाराट्र के सोलापुर से बीजेपी के उम्मीदवार है. और इन जनाब का नाम है जय सिद्धेश्वर स्वामी. ये जनाब जनता से अनोखे अंदाज में वोट के लिए अपील करते नजर आए. इन्होने मतदाताओं से कहा कि चुनाव के दौरान छुट्टियों का सीजन है, इसलिए देवदर्शन के लिए मत चले जाना. भगवान तुमसे बात नहीं करेंगे. मैं ही तुम्हारा बोलने वाला भगवान हूं.

जरुर पढ़ें:  मुख्यमंत्री रहते हुए किस कांग्रेसी नेता ने फाड़ दिया था दिग्विजय सिंह का कुर्ता

डॉ. जय सिद्धेश्वर स्वामी ने आगे कहा, ‘अगर तुम दर्शन करने गए, तो तुम्हें पुण्य नहीं मिलेगा, भगवान नहीं मिलेगा, तुम्हें उल्टे पैर लौटना होगा. तुम्हारे पैसे खर्च होंगे, तुम्हें समाधान भी नहीं मिलेगा.’

बता दें कि जयसिद्धेश्वर स्वामी लिंगायात समाज के धर्मगुरी हैं. और पहली बार चुनाव लड़ रहे हैं. बीजेपी ने उन्हें कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार शिंदे के खिलाफ चुनाव मैदान में उतारा है.

अब स्वामी जी का ये रूप उन्हे कितना फायदा दिला पाता है ये तो आने वाला वक्त ही बताएगा. लेकिन इनता जरूर है कि इन जनाब की इस हरकत ने विपक्ष को फिर एक नया मुद्दा दे दिया उनकी पार्टी को घेरने के लिए.

जरुर पढ़ें:  गोपाल राय का कांग्रेस से गठबंधन को लेकर बयान, कहा- पीछे हटने का सवाल ही नहीं उठता..

महाराष्ट्र की 48 सीटों पर शुरुआती चार चरणों में चुनाव होगा. पहले फेज में 7 सीटों पर 11 अप्रैल को, दूसरे फेज में 10 सीटों पर 18 अप्रैल को, तीसरे फेज में 14 सीटों पर 23 अप्रैल को और चौथे फेज में 17 सीटों पर 29 अप्रैल को चुनाव होगा.

 

 

Loading...