कांग्रेस को फिर लगा झटका, वरिष्ठ नेता राधाकृष्ण विखे पाटिल के बेटे सुजय BJP में हुए शामिल

लोकसभा चुनाव 2019 की तारीखों के ऐलान के बाद से ही सभी राजनीतिक पार्टियों ने अपनी कमर कस ली है। और चुनाव की तैयारियों में जी जान से जुट गई हैं। ऐसे में कांग्रेस को महाराष्ट्र में एक बड़ा झटका लगा है। जी हां कांग्रेस के सीनियर लीडर राधाकृष्ण विखे पाटिल के बेटे सुजय विखे पाटिल ने मंगलवार (12 मार्च) को भारतीय जनता पार्टी का हाथ थाम लिया है। बता दें कि सुजय ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की मौजूदगी में भाजपा जॉइन की। गौरतलब है कि पिछले कुछ वक्त से इस बात की चर्चा हो रही थी, जिस पर आज विराम लग गया।

जरुर पढ़ें:  चीन ने वीटो पावर से किया मसूद का बचाव, जानिए क्या है ये वीटो पॉवर?

कौन हैं सुजय विखे पाटिल: बता दें कि सुजय विखे पाटिल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और महाराष्ट्र विधानसभा में विपक्ष के नेता राधाकृष्ण विखे पाटिल के बेटे हैं। ऐसे में सुजय का भाजपा में शामिल होना कांग्रेस को एक बड़ा झटका दे सकता है।

अहमदनगर सीट की वजह से हुए भाजपा में शामिल: दरअसल सुजय अहमदनगर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ना चाहते थे, लेकिन एनसीपी द्वारा अहमदनगर सीट कांग्रेस को देने के इनकार के बाद से सुजय का भाजपा में आना तय माना जा रहा था। इस बारे में सुजय ने कहा था- मैं पिछले कई सालों से लोकसभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहा हूं। चाहें यह सीट कांग्रेस को मिले या फिर नहीं, लेकिन मैं यहीं से चुनाव लड़ूंगा।

लोकसभा चुनाव 2019: नरेंद्र मोदी को मिलेगा दूसरा मौका? क्‍या कहते हैं 2014 के बाद 27 राज्‍यों में हुए चुनाव के आंकड़े
चुनाव आयोग ने सात चरणों में आम चुनाव कराने की घोषणा कर दी है। इसी के साथ भारतीय जनता पार्टी के प्रमुख चेहरे, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और देशभर में विपक्षी दलों के गठबंधन के बीच मुकाबले का मंच सज गया है। परिणाम क्‍या होंगे, यह तो 23 मई को पता चलेगा.
एनसीपी ने सुजय को दिया था सुझाव: हालांकि ये भी सुनने को मिला था कि राधाकृष्णा पाटिल ने शरद पवार से अहमदनगर सीट अपने बेटे सुजय को देने के लिए मनाने की कोशिश की थी , लेकिन शरद पवार ने मना कर दिया था। साथ ही, यह सुझाव दिया था कि सुजय चाहें तो एनसीपी के उम्मीदवार बन अहमदनगर से चुनाव लड़ सकते हैं।
Loading...