बिग बॉस पर लगा धांधली का आरोप, खुलासा करने वाले पर जानलेवा हमला

इंडियान टेलिविजन पर यूं तो कई रियेलिटी शोज देखने को मिलते है. लेकिन उन्ही में कुछ रियेलिटी शो ऐसे भी दिखाए जाते हैं. जो कि दर्शकों की बीच काफी लोकप्रिय बन चुके है. और इन्ही में से एक नाम है रिएलिटी शो बिग बॉस का. जी हां कलर्स चैनल पर प्रसारित किया जाने वाला वही शो जिसके होस्ट सलमान खान हैं.

रिएलिटी शो बिगबॉस अपनी कोंट्रवर्सी के चलते हमेशा ही चर्चाओं का विषय बना रहता है. बता दें कि बिगबॉस के अब तक 12 सिजन TELECAST हो चुके हैं. और दर्शकों ने इस शो के सभी सीजन्स तो काफी पसंद भी किया है. लेकिन हाल ही में खत्म हुए रिएलिटी शो बिगबॉस के सीजन 12 को लेकर एक ऐसी खबर सामने आई है. जिसे सुनकर आप भी हैरान हो जाएंगे.

जरुर पढ़ें:  एक ऐसा रियलेटी शो जो बना देगा आपको कातिल और रेपिस्ट

जी हां, मशहूर रिएलिटी शो बिग बॉस के नतीजों में फिक्सिंग और उपकरणों की आपूर्ति में धांधली का मामला सामने आया है. और इस मामले की पोल खोलने वाले वेंडर की जान पर बन आई है. दरअसल इस शख्स पर जानलेवा हमला हो चुका है. औऱ तो और बिग बॉस बनाने वाली कंपनी ने इसका करार भी कथित रूप से फर्जी दस्तखत बनाकर खत्म कर दिया है.

दरअसल सत्यजीत का कहना है कि इस शो को बनाने वाली कंपनी एंडेमॉल के कुछ अधिकारी उनसे तबसे खफा है जबसे उन्होंने शो के एलिमिनेशन राउंड्स और विजेताओं के चयन में होने वाली धांधली को कलर्स चैनल के अधिकारियों तक पहुंचाने की कोशिश की. इसके बाद उनके फर्जी दस्तखत बनाकर उनका करार खत्म कर दिया गया जबकि उन्होंने कंपनी के इस भरोसे के बाद ही करीब 20 करोड़ रुपये से अधिक के शूटिंग उपकरण खरीदे थे कि उनका करार अगले तीन साल तक चलता रहेगा.

जरुर पढ़ें:  अजय देवगन की फिल्म ‘टोटल धमाल’ का नया पोस्टर, 3 दिन बाद लॉन्च होगा ट्रेलर!

वहीं करार खत्म करने के कागज पर जिस तारीख में सत्यजीत के हस्ताक्षर बनाए गए, सत्यजीत के मुताबिक उस दिन वो भारत में ही नहीं थे। सत्यजीत अपने साथ हुई इस धोखाधड़ी की शिकायत करने पुलिस के पास गए तो पहले तो पुलिस ने उनकी सुनी नहीं और जब वह मुकदमा दर्ज कराने की गुहार लेकर बॉम्बे हाईकोर्ट गए तो सुनवाई वाले दिन के पहले वाली रात को पुलिस ने मुकदमा दर्ज तो कर लिया लेकिन फिर कोई कार्रवाई नहीं की.
जिसके बाद सत्यजीत ने इस मामले की शिकायत केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह की. इस पूरे मामले की शिकायत के बाद केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के मुंबई पुलिस को दिए गए निर्देश भी नीचे के अधिकारियों ने हवा मे उड़ा दिए हैं.
इसी के बाद उन पर जानलेवा हमला भी हुआ। धोखाधड़ी करने, जबरन दफ्तर में बंद करने और कुछ और कागजात पर धमकी देकर दस्तखत कराने के इस मामले में वॉयकॉम 18 के कुछ बड़े अफसरों को भी नामजद किया गया है। इस बारे में जब वॉयकॉम 18 के ग्रुप सीईओ सुधांशु वत्स से उनका पक्ष जानने की कोशिश की गई तो उन्होंने संदेश का कोई जवाब नहीं दिया।
बता दें कि सत्यजीत मनोरंजन टीवी चैनलों में बनने वाले रिएलिटी शोज में एडिट गुरु नाम की कंपनी के मालिक है.

Loading...