बॉलीवुड के भाई सलमान खान की फिल्मों का उनके फैंस को हमेशा इंतजार रहता है. इसी कड़ी में सलमान की नई फिल्म और दबंग का तीसरा पार्ट दबंग 3 भी चर्चा का विषय बना हुआ है. लेकिन इस बार सलमान को लेकर नहीं बल्कि एक विवाद के चलते फिल्म सुर्खियों में है. दरअसल 20 दिसंबर को रिलीज होने वाली फिल्म के गाने सोशल मीडिया पर ट्रैंड कर रहे हैं. इस गाने के वीडियो को गंगा घाट पर शूट किया गया है. इस गाने में सलमान खान ढेर सारे डांसर्स के साथ हुक स्टेप करते हुए नजर आ रहे हैं. इस गाने में कुछ लोग भगवान के वेश में  हैं तो वहीं कुछ लोग साधु-संन्यासी का वेष धारण किए हुए गिटार बजा रहे हैं. जिसके बाद से इस गाने में डांसर्स की वेषभूषा के चलते विवाद शुरू हो गया है. दरअसल हिन्दू जनजागृति समिति ने इस गाने पर आपत्ति जताई है. विरोध दर्ज करवाते हुए उन्होंने कहा कि साधु ऐसे उछल-उछलकर गिटार नहीं बजाते हैं. जिसके बाद से गाने को लेकर कॉन्ट्रोवर्सी लगातार बढ़ती जा रही है. इतना ही नहीं हिन्दू जनजागृति समिति ने सलमान खान को भी घेरे में लेते हुए कहा है कि इस गाने के जरिए हिंदू धर्म का मजाक बनाया गया है. बता दें कि महाराष्ट्र और झारखंड राज्य में समिति के संगठक सुनील घनवट ने कहा है कि इस गाने से हिंदुओं की भावनाएं आहत हो रही हैं. इसलिए इस गाने को फिल्म से हटाया जाए. इतना ही नहीं उन्होंने सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन की तरफ से फिल्म को सर्टिफिकेट न दिए जाने की मांग की है.

जरुर पढ़ें:  निरहुआ और आम्रपाली की इस वीडियो ने लगाई यूट्यूब पर आग, सलमान को भी पछाड़ा

अगर ये सर्टिफिकेट फिल्म को नहीं दिया जाता है तो फिल्म रिलीज नहीं हो सकती है. बता दें कि सुनिल घनवट ने सीबीएफसी को पत्र लिखकर कहा है कि इस गाने में साधुओं को आपत्तिजनक तरीके से नाचते हुए दिखाया गया है. इसके कारण हिन्दूओं की धार्मिक भावनाएं आहत हुईं हैं. जिस तरह से सलमान ने साधुओं को नीचा दिखाया है, क्या वह मुल्ला-मौलवी या फादर-बिशप को इसी तरह नाचते हुए दिखाने की हिम्मत करेंगे?. हालांकि मैं आपको बता दूं कि ये पहला मामला नहीं है जब किसी गाने को लेकर हिंदू बनाम मुस्लीम की जंग शुरू हो गई हो. क्योंकि पहले भी कई बार फिल्मों के नामों, गानों और सीनों पर आपत्ति जताई जा चुकी है. फिलहाल सलमान खान एंड पार्टी और सीबीएफसी की तरफ से कोई बयान सामने नहीं आया है.

जरुर पढ़ें:  शाहरुख खान फिर घिरे मुश्किलों में, बेनामी संपत्ति मामले में मिली आयकर विभाग से चुनौती..

लेकिन इतना तो जाहिर है कि टाइटल ट्रैक होने के चलते इसे फिल्म से तो नहीं हटाया जा सकता. अब ऐसे में ये देखना दिलचस्प होगा कि फिल्म से इस गाने को हटाया जाता है, एडिट किया जाता है या फिर कुछ और. क्योंकि भले ही नेगेटिव पब्लिसिटी इज आलसो पब्लिसिटी लेकिन डायरेक्टर इसके चलते कभी भी अपने ऑडियंस को नाराज नहीं होने देंगे. वैसे गौरतलब है कि हिंदू धर्म और प्रथाओं को छेड़ना बॉलीवुड जगत के लिए हमेशा से आसना रास्ता रहा है. वैसे इसे एक स्ट्रैडजी के तौर पर भी देखा जा सकता है. क्योंकि अक्सर देखा गया है कि काउंट्रवर्सी जुड़ने से फिल्म हिट हो जाती है. इसी कड़ी में पद्मावत जैसी फिल्में इसका जीता-जागता सबूत हैं. इस खबर पर अपनी राय हमें कमेंट कर के बताएं. आपको क्या लगता है ये बॉलीवुड की हिट स्ट्रैडजी है या फिर हिंदू धर्म से उनका जुड़ाव है जो कि जाने अनजाने हिंदू की भावनाओं को आहत करने का काम करता है.

जरुर पढ़ें:  होली की बधाई देते हुए राखी सावंत के साथ की इस शख्स ने खुलेआम बतिमीज़ी!

 

Loading...