SP और BSP के बीच उठ रहीं गठबंधन की बातों पर UP के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने चुप्पी तोड़ी है. उन्होंने कहा कि गठबंधन के सवाल पर अभी कुछ नहीं बोलूंगा. इसी के साथ उन्होंने भाजपा पर सीधा हमला करते हुए कहा कि गठबंधन रोकने के लिए केंद्र मेरे खिलाफ सीबीआई का इस्तेमाल कर रहा है.

अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में बीजेपी विरोधी किसी भी प्रकार का गठबंधन न हो पाए, इसलिए केंद्र की मोदी सरकार मुझ पर सीबीआई द्वारा छापेमारी करवा रही है. साथ ही अखिलेश ने बीजेपी की आड़ में कांग्रेस पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि पहले यूपीए के कार्यकाल में कांग्रेस ने सीबीआई से मुलाकात कराई और अब केंद्र की एनडीए सरकार सीबीआई से मुलाकात करवा रही है.

जरुर पढ़ें:  फिर लौट आई ढिंचैक पूजा, इस बार ना सेल्फी, ना स्कूटर अब मांग रही है कैश

बता दें, शुक्रवार को मीडिया में ऐसी खबरें आईं थीं कि यूपी की 80 लोकसभा सीटों पर SP और BSP के बीच सीटों का विभाजन हो गया है. बताया गया कि दोनों पार्टियों ने 71 सीटों को आपस में बांट लिया है. सपा प्रदेश की 35 लोकसभा सीटों पर और बसपा 36 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ सकती है. इसके अलावा, राष्ट्रीय लोकदल को 3 सीटें देने और 4 सीटों को रिजर्व रखने की बात तय हुई.

सीट शेयरिंग के इस फार्मूले में कांग्रेस गायब नजर आई. मीडिया में SP-BSP गठबंधन की खबरों में कांग्रेस को जगह न मिलने की बात तेजी से फैली, जिसके बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर ने कहा कि सपा-बसपा गठबंधन की जानकारी दोनों पार्टियों में से किसी की तरफ से भी औपचारिक तौर पर समाने नहीं आई है.

जरुर पढ़ें:  लोकसभा चुनाव से पहले नीतीश कुमार की पार्टी इस मुद्दे को लेकर बीजेपी को नहीं देंगी समर्थन!

इसके साथ ही उन्होंने ऐसे किसी गठबंधन की बात से इनकार कर दिया. इसके बाद अब SP प्रमुख अखिलेश यादव ने भी सभी अटकलों को खारिज करते हुए कहा कि गठबंधन को लेकर अभी कोई बात नहीं कहूंगा. माना जा रहा है कि अखिलेश कांग्रेस की मंशा को भांप रहे हैं और गठबंधन में अपनी शर्तों के साथ शामिल होने के लिए उचित समय का इंतजार कर रहे हैं.

Loading...