अयोध्या में दीवाली मनाते हुए, राम मंदिर पर सीएम योगी ने दिया बड़ा बयान, कहा-अयोध्या में मंदिर..

सीएम योगी आज अयोध्या में दीवाली के प्रोग्राम में सम्मलित हुए. और साथ ही योगी ने अयोध्या में रामलला और हनुमानगढ़ी मंदिर के दर्शन किये. पूजा अर्चना के बाद फिर योगी ने लोगों को संबोधित करते हुए एक बड़ा बयान दिया. जिसने सियासत के गलियारों में आग लगा दी है.

उन्होंने कहा कि अयोध्या में मंदिर था, मंदिर है और मंदिर रहेगा इसमें कोई संदेह नहीं है. आगे कहा जो भी अयोध्या आता है रामलला के दर्शन के लिए जरूर आता है. अयोध्या में मंदिर बनने के सवाल पर योगी ने कहा, ‘जहां तक राम मंदिर की बात है, संवैधानिक दायरे में रह कर ही सरकार काम करेगी.

जरुर पढ़ें:  वायरल पड़ताल : सीएम योगी ने इलाहाबाद बैंक का नाम बदलकर किया प्रयागराज बैंक!

सरयू तट पर तीन लाख मिट्टी के दीयों को जलाने पर योगी ने कहा, ”अयोध्या हमारे धर्म में पावन भूमि रही है. दीपोत्सव से हमने इसको बताने और जताने का प्रयास किया है. इसका दूसरा संस्करण समाप्त हुआ. पिछली बार जब हमने ये किया तो कई तरह की आशंकाएं थी. मैंने कई जगह अयोध्या में आज सर्वेक्षण किया. आनेवाले कुछ सालों में अयोध्या दुनिया की बेहतरीन नगरी में विकसित होगी.

योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या के सरयु तट पर 151 फीट राम की मंदिर बनाए जाने पर कहा, भगवान राम की दर्शनीय मूर्ति लगे, इसके लिए दो जगहों को मैंने देखा है. पूजनीय मूर्ति मंदिर में होती है लेकिन ये दर्शनीय होगी. जिससे अयोध्या की पहचान हो सके.

जरुर पढ़ें:  फिर रची पुलवामा हमले जैसी साजिश, CRPF के काफिले के पास धमाका

उन्होंने कहा कि अयोध्या में बुनियादी सुविधाओं के लिए प्रयास किए जा रहे हैं. अयोध्या में माता कौशल्या के नाम पर ओल्ड एज होम बनेगा. बता दें कि कल योगी आदित्यनाथ ने फैजाबाद जिले का नाम अयोध्या किये जाने की घोषणा की थी.

दरअसल अयोध्या में राम मंदिर-बाबरी मस्जिद का मामला फिलहाल सुप्रीम कोर्ट में है. कोर्ट ने पिछले दिनों इस मामले पर सुनवाई करते हुए जनवरी तक के लिए टाल दिया था. जिसके बाद से वीएचपी, शिवसेना और आरएसएस राम मंदिर को लेकर लगातार कानून बनाए जाने की मांग कर रही है. और साथ ही योगी सरकार के कई मंत्री राम मंदिर बनाने को लेकर लोगों को दिलाशा दे रहे हैं वो प्राइवेट बिल लाकर राम मंदिर का निर्माण जल्द ही करायेंगे.

Loading...