कोर्ट आज हिसार के सतलोक आश्रम मामले में जेल में बंद बाबा रामपाल के को लेकर फैसला सुनायेगा. जिसके मद्देनजर हिसार समेत आसपास के इलाकों की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है. हिसार की अदालत आज रामपाल के भविष्य का फैसला करेगी.

बता दें कि हिसार जिले को किले में तब्दील कर दिया गया है. प्रशासन ने लॉ एंड आर्डर की स्थिति को बनाए रखने के लिए मध्यप्रदेश, राजस्थान, पंजाब और हरियाणा के विभिन्न हिस्सों से हिसार आने वाली ट्रेनों पर भी रोक लगा दी है. साथ ही शहर में कई जगहों पर रूट डाइवर्ट कर दिया गया है. दिल्ली रोड, राजगढ़ रोड और साउथ बाईपास पर रूट डाइवर्ट किया गया है. सुनवाई पहले ही जिले की सभी सीमाएं सील कर दी गई थीं और हिसार में इंटरनेट सेवायें भी बंद कर दी गई हैं..

जरुर पढ़ें:  4 दिन तक अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में कुलभूषण जाधव मामले पर चली सुनवाई खत्म,जानिए सुनवाई के दौरान क्या हुआ

दरअसल लगभग चार साल से जेल में बंद रामपाल पर सोमवार को हुई फाइनल सुनवाई के बाद कोर्ट ने अपना फैसला गुरुवार तक के लिए सुरक्षित रख लिया था. मामला 14 नवंबर 2014 का है, जब हाईकोर्ट के आदेश के बावजूद एक मामले में रामपाल कोर्ट में पेश नहीं हुआ. इसके बाद हाईकोर्ट ने रामपाल को पेश करने के आदेश दिए और पुलिस प्रशासन ने सतलोक आश्रम से रामपाल को निकालने के लिए ऑपरेशन चलाया. इस दौरान 4 लोगों की मौत हुई थी.

Loading...