सरदार पटेल की प्रतिमा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से सरकार की बल्ले-बल्ले, अबतक हुई इतनी कमाई.

गुजरात में बनी सरदार पटेल की प्रतिमा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी ने पहले तो दुनिया में इतिहास रचा और अब ये पर्यटकों के बीच काफी लोकप्रिय हो रही है. और इस बात का अंदाज़ा 10 नवंबर को स्टैच्यू ऑफ यूनिटी देखने को उमड़ी भीड़ से लगाया जा सकता है.

दरअसल इस दौरान 30 हजार से भी ज्यादा सैलानी स्टैच्यू ऑफ यूनिटी देखने पहुंचे. साथ ही चौंकाने वाली बात तो ये भी सामने आई कि नर्मदा जिले के केवड़िया टाउन में लोगों की इतनी भीड़ उमड़ गई कि जिसके चलते यहां 10 किमी लंबा ट्रैफिक जाम लग गया. यही नहीं बल्कि बड़ी तादाद में सैलानियों के आगमन से सरदार सरोवर नर्मदा निगम को अच्छी कमाई भी हो रही है.

वैसे अब तक सरदार सरोवर निगम को स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से 50 लाख रुपये से ज्यादा की कमाई हो चुकी है..वहीं अगर पर्यटकों की संख्या में कमी नहीं हुई तो निगम की कमाई का आंकड़ा और भी बढ़ सकता है. हालांकि नियमों के अनुसार एक दिन में सिर्फ पांच हजार लोग ही स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के व्यूंईंग Gallery को विजिट कर सकते हैं.

जरुर पढ़ें:  संत भय्यूजी महाराज की आत्महत्या को लेकर उनके ही करीबी ने किया बड़ा खुलासा!

खास बात तो ये भी है कि अगर हर रोज 5 हजार भी लोग गैलरी देखने पहुंचते हैं तो निगम करीब 19 लाख रुपये इससे ही कमा सकता है, क्योंकि गैलरी देखने की कुल फीस 380 रुपये है. फिलहाल कई पर्यटकों को Viewing Gallery देखे बिना ही वापस लौटना पड़ रहा है. वहीं अन्य टिकटों से भी लाखों रुपये की कमाई हो रही है, जिसमें म्यूजियम, फ्लावर्स वैली आदि शामिल है.

बता दें कि दिवाली के दिन यहां आने वाले पर्यटकों की संख्या 16 हजार दर्ज की गई थी, जबकि भाई दूज के दिन 20 हजार से ज्यादा लोग पहुंचे. इसके बाद शनिवार को भी 30 हजार से ज्यादा लोग स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का दीदार करने पहुंचे. यानि कि रोजाना सैलानियों की तादाद बढ़ती जा रही है.

जरुर पढ़ें:  लड़की को 'छम्मकछल्लो' मत कहना, जेल की हवा खानी पड़ेगी

नर्मदा निगम को भले ही इससे कमाई हो रही हो, लेकिन कई रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि इस स्टैच्यू के मैटेनेंस में काफी खर्चा भी है. रिपोर्ट्स के अनुसार स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के रख-रखाव में हर रोज 12 लाख रुपये खर्च होते हैं. अब आपको सरदार पटेल की प्रतिमा के दीदार की टिकट के बारे में बता देते हैं.

दरअसल टिकट की दो कैटेगरी बनाई गई है, जिसमें एक गैलरी देखने और एक बिना गैलरी वाली टिकट है. अगर आप गैलरी, म्यूजियम और वैली ऑफ फ्लावर में जाना चाहते हैं और पूरा नजारा देखना चाहते हैं तो तीन साल के बच्चों से लेकर व्यस्क तक 350 रुपये की टिकट लेनी होगी और 30 रुपये बस के देने होंगे. यानी एक आदमी का खर्चा 380 रुपये होगा. दरअसल ये गैलरी 142 मीटर की ऊंचाई पर सरदार पटेल के सीने के पास बनी है.

जरुर पढ़ें:  अरुणाचल प्रदेश में मचा बवाल, PRC को लेकर स्थानीय लोगों का प्रदर्शन जारी

अगर कोई गैलरी में नहीं जाना चाहता हैं तो उन्हें 3 से 15 साल के बच्चों के लिए 60 रुपये और 15 साल से ऊपर के लोगों के लिए 120 रुपये की टिकट लेनी होगी. वहीं बस के 30 रुपये अलग है. बता दें कि 120 रुपये की    टिकट में आप मूर्ति के पास तक जा सकते हैं, लेकिन ऊपर नहीं जा पाएंगे. हालांकि इस टिकट में आप म्यूजियम और वैली ऑफ फ्लॉवर देख सकेंगे.

अगर कोई शख्स ना ही वैली ऑफ फ्लॉवर देखना चाहता है और ना ही म्यूजियम, तो वो 30 रुपये में मूर्ति तक जा सकता है. इसके लिए पर्यटक को 30 रुपये की बस की टिकट लेनी होगी.

Loading...