गौतम गंभीर जो पहले कभी क्रिकेट का चमकता हुआ सितारा रह चुके हैं. भले ही इन दिनों गौतम गंभीर क्रिकेट के हिस्सा न हो लेकिन सोशल मीडिया पर अपनी राय रखने में कभी पीछे नहीं रहते है. गंभीर शुरु से ही सामाजिक सेवा और समाज से असमानता को दूर करने के लिए सोशल मीडिया और कार्यक्रमों के जरिये पहल चलाते रहते हैं. साथ ही गंभीर अपने देशभक्त बयानों, और समाज के लिए निरंतर किए जाने वाले कामों को लेकर भी मीडिया की सुर्खियों में हमेशा बने रहते है. हाल ही में सोशल मीडिया पर गौतम गंभीर की कुछ तस्वीरें जमकर वायरल हो रही हैं….

जरुर पढ़ें:  लड़का चोर या डकैत है, तभी शादी हो सकता है, वरना कुंआरा रहना पड़ता है
गौतम गंभीर एक कार्यक्रम में बिंदी लगाकर और दुपट्टा ओढ़कर पहुंचे

बता दें कि तस्वीरों में गौतम गंभीर एक महिला के वेशभूषा में है. जिसमें गंभीर अपने माथे पर बिंदी लगाए और दुपट्टा ओढ़े हुए हैं. जब लोगों ने गंभीर की ऐसी तस्वीरों को सोशल मीडिया पर देखा तो लोग हक्का बक्का हो गए. लेकिन जब लोगों को हकीकत का पता चला तो उनकी सोशल मीडिया पर जमकर तारीफ की. हाल ही में गंभीर हिजड़ा हब्‍बा कार्यक्रम के उद्घाटन समारोह में पहुंचे जिसका आयोजन शेमारी सोसायटी ने कराया.

महिला के ड्रेसअप में गंभीर

कार्यक्रम में महिला के ड्रेसअप में पहुंचे गंभीर ने बताया कि ट्रांसजेंडर को भेदभाव का सामना करना पड़ता है और अक्सर वे हिंसा का भी शिकार होते हैं. इन लोगों को अपने से अलग या कुछ भी समझने से पहले हमें सिर्फ इतना याद रखना चाहिए कि ये भी सबसे पहले इंसान हैं. गंभीर मानना है कि किन्नर सम्मान के हकदार हैं. टि्वटर पर लोगों ने गौतम की इस पहल की जमकर सराहना की. गंभीर के फैन्स ने सोशल मीडिया पर तारीफ करते हुए तरह- तरह के अपने विचार लिखे एक फेंन्स ने लिखा कि एक ही दिल को बार-बार जीतना कोई गौतम गंभीर से सीखे.

जरुर पढ़ें:  Flipkart Big Diwali Sale: 15000 के इस फोन खरीद सकते हैं मात्र 1000 से भी कम में
गौतम गंभीर ट्रांसजेंडर अभिना और सिमरन शेख से राखी बंधवाते हुए

बता दें कि ये पहला मौका नहीं है गंभीर ने इससे पहले भी रक्षा बंधन के मौके पर ट्रांसजेडर के लिए एक पहल की थी जिसमें गौतम गंभीर ने ट्रांसजेंडर अभिना और सिमरन शेख से अपने हाथों पर राखी बंधवाई थी और इस पर उन्होने गर्व महसूस करते हुए टि्वटर पर इसकी तस्वीरें भी शेयर की थीं और लिखा ‘ये मर्द या औरत होने की बात नहीं है. ये इंसान होने की बात है.
देखें वीडियो-

जाहिर है कि गंभीर अपने फाउंडेशन के जरिए सामाजिक कार्यों में काफी आगे रहे हैं. गौतम गंभीर छत्तीसगढ़ में पिछले साल अप्रैल में हुए नक्सली हमले में शहीद हुए 25 जवानों के बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाकर एक मिसाल पेश कर चुके हैं.

Loading...