नई दिल्ली। जवाहरलाल नेहरू स्टूडेंट यूनियन (जेएनयूएसयू) ने कैंपस के बाहर कथित फीस वृद्धि और छात्रावास ड्राफ्ट मैनुअल को लेकर विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू दीक्षांत समारोह को संबोधित कर रहे थे। विरोध प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने आरोप लगाया कि विश्वविद्यालय प्रशासन ने प्रवेश द्वार पर सीआरपीएफ कर्मियों को तैनात करने के साथ ही बैरिकेड्स लगा दिए हैं।

वहीं अवरुद्ध किए गए प्रवेश द्वार की तस्वीर को साझा करते हुए जेएनयूएसयू के पूर्व अध्यक्ष एन साई बालाजी ने लिखा, “एंबियंस मॉल के गेट पर सीआरपीएफ तैनाती के साथ बैरिकेड्स लगाए गए हैं।”

दीक्षांत समारोह में देश के उपराष्ट्रपति नायडू और केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ शामिल हुए।

जरुर पढ़ें:  पाकिस्तान की सहायता करने को तैयार भारत

प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने दीक्षांत समारोह का बहिष्कार करने के साथ प्रशासन से हॉस्टल ड्राफ्ट मैनुअल और फीस वृद्धि को पहले जैसा करने की मांग की।

वहीं कैंपस में सीआरपीएफ की तैनाती को लेकर जेएनयू प्रशासन ने अब तक कोई बयान नहीं दिया है।

जेएनयू प्रशासन ने अपने हालिया निर्देशों में छात्रावास, मेस और सुरक्षा फीस में 400 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी की है। इसके साथ ही नए निर्देश में छात्रावास आने-जाने की समय सीमा भी सीमित कर दी गई है।

VK News

Loading...