नई दिल्ली। अमेरिका के पत्रकार जमाल खशोगी की मौत के मामले में सऊदी सरकार ने स्वीकार किया है कि उनकी मौत सऊदी के दूतावास में ही हुई। सऊदी सरकार ने कहा कि दूतावास में हाथापाई के दौरान पत्रकार जमाल की मौत हो गई।

पत्रकार जमाल सऊदी अरब का नागरिक था। वह अमेरिका स्थित वॉशिंगटन पोस्ट के लिए लिखते थे। उनके सऊदी के शाही परिवार से अच्छे रिश्ते थे, लेकिन बीते कुछ महीनों से वे प्रिंस सलमान के खिलाफ लिख रहे थे। यह सऊदी अरब को नागवार गुजर रहा था।

बताया जा रहा है कि उसी वजह से उनके साथ इस्तांबुल के दूतावास में मारपीट की गई थी। बता दें कि 1980 के दशक में खगोशी ने ओसामा बिन लादेन का इंटरव्यू भी लिया था। 2 अक्टूबर से अब तक सऊदी के अधिकारी बार-बार दावा कर रहे थे कि खशोगी दूतावास से सही-सलामत बाहर निकले थे। उनके बारे में कोई और जानकारी नहीं है।

जरुर पढ़ें:  ये नेता हैं बॉलीवुड स्टार नहीं, सोशल मीडिया पर फोटो हो रही है वायरल

इस मामले में सऊदी अरब के सरकार का कहना है कि जांच के बाद पांच उच्च अधिकारियों को नौकरी से निकाल दिया गया और 18 को गिरफ्तार किया गया।

Loading...