कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को जब पाकिस्तान के नये पीएम इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में गए थे तो तब पूरे देश ने सिद्धू की खूब आलोचना की. और बूरा भला तक बोल दिया था कि जो देश हमारे देश की सीमा में प्रतिदिन घूसपैठ करता है और हमारे सैनिकों पर हमला करता है, और हमारे देश के मंत्री उनके शपथ ग्रहण में शामिल हो रहे हैं.

लेकिन अब एक बार फिर पीएम इमरान खान ने सिद्धू को करतारपुर साहिब कोरिडोर के शिलान्यास पर आमंत्रित किया है. इमरान खान ने उन्हें फोनकर के आने का न्यौता दिया. पाकिस्तान के पीएम से मिले न्यौते पर सिद्धू ने कहा है कि वह भारत सरकार के इजाजत लेने के बाद जाएंगे.

जरुर पढ़ें:  पाकिस्तानी ऐक्ट्रेस ने रमजान के महीने में लगाई पाखंडियों को फटकार

बता दें कि इससे पहले जब मोदी कैबिनेट ने सिख समुदाय को बड़ी खुशखबरी देते हुए कहा कि वह करतारपुर गलियारे (कॉरिडोर) के विकास के लिए पाकिस्तान सरकार से आग्रह करेगी तो सिद्धू ने पीएम मोदी को थैंक्यू कहा था. सिद्धू ने कहा, ”मैं भारत सरकार का शुक्रगुजार हूं कि उन्होंने दुनिया के 12 करोड़ नानक नाम लैवस के हित में पाकिस्तानी सरकार से अनुरोध किया. मुझे उम्मीद है कि सुषमा स्वराज से जो वायदे किये थे वे पत्र तैयार होगा.”

इससे पहले सिद्धू पाकिस्तान इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में गए थे जिसको लेकर काफी बबाल हुआ था. शपथ ग्रहण समारोह में वह वहां के आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा से गले मिले थे.

जरुर पढ़ें:  अमेरिका ने कुत्तों पर बनाया ऐसा कानून, भारत से किया विशेष अनुरोध

इस दौरान सिद्धू ने बाजवा और पाकिस्तान की तारीफ में जमकर कसीदे भी पढ़े थे. इस्लामाबाद में प्रेस कॉन्फ्रेंस में सिद्धू ने कहा था, ‘मैं एक मोहब्बत का पैगाम हिन्दुस्तान से लाया था, जितनी मोहब्बत मैं लेकर आया था, उससे 100 गुना ज्यादा मोहब्बत मैं वापस लेकर जा रहा हूं. पाकिस्तान से जो वापस आया है, वो सूद समेद आया है.’ सिद्धू को वापस भारत आने के बाद काफी विरोध का सामना करना पड़ा था.

Loading...