राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में शुक्रवार को वायु का स्तर काफी खराब होता नज़र आया. मौसम विभाग के मुताबिक अगले महीने उत्तर पश्चिम की ओर से हवाओं के आने की आशंका है. जिससे दिल्ली-एनसीआर में वायु का रुख खराब हो सकता है.

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड यानि कि सीपीसीबी ने शुक्रवार शाम वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई)361 पर दर्ज किया जो ‘बेहद खराब’ श्रेणी में आता है. जो दिल्ली में लोगों को सांस लेने के लिए मुसीबत पैदा करेगा.

केंद्र की वायु गुणवत्ता पूर्वानुमान और अनुसंधान प्रणाली ने भी एक्यूआई ‘बेहद खराब’ श्रेणी का दर्ज किया. सीपीसीबी के आंकड़ों के अनुसार, फरीदाबाद, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद और गुड़गांव में भी वायु गुणवत्ता का स्तर गुरुवार को ‘बहुत खराब’ श्रेणी का दर्ज किया गया.

जरुर पढ़ें:  सचिन पायलट को छोड़कर, राजस्थान में राहुल गांधी ने पहनाया इस नेता को मुख्यमंत्री का ताज!

राष्ट्रीय राजधानी में सोमवार को वायु गुणवत्ता में सुधार देखने को मिला था. लेकिन बुधवार को यह फिर से गिरकर ‘बेहद खराब’ श्रेणी में दर्ज किया गया.

बता दें कि है कि 0 से 50 के बीच एक्यूआई अच्छा माना जाता है, 51 और 100 के बीच संतोषजनक, 101 और 200 के बीच मध्यम श्रेणी का, 201 और 300 के बीच खराब, 301 और 400 के बीच बेहद खराब और 401 से 500 के बीच एक्यूआई गंभीर माना जाता है.

Loading...