राजस्थान के रामगढ़ विधानसभा उप-चुनाव में कांग्रेस कि जित हुई है. कांग्रेस प्रत्याशी शफिया जुबैर खान ने 12,228 वोटों से जीत दर्ज की है. इस जीत के साथ ही 200 सदस्यीय राजस्थान विधानसभा में कांग्रेस के 100 विधायक हो गए हैं. शाफिया को 83,311 मिले तो बीजेपी कि सुखवंत सिंह को 71083 वोट मिले.

वहीं हरियाणा के जींद से बीजेपी आगे चल रही है. यहां शुरुआती रुझान में जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के दिग्विजय सिंह चौटाला आगे चल रहे थे. लेकिन चौथे राउंड के बाद बीजेपी आगे निकल गई. पार्टी करीब दो हज़ार वोटों से आगे चल रही है. यहां कांग्रेस को अब तक 7614, जेजेपी को 13443 और बीजेपी को 15481 वोट मिले हैं. इस सीट पर 28 जनवरी को उपचुनाव हुआ था जिसके लिये दो महिलाओं के साथ 21 उम्मीदवार मैदान में थे.

जरुर पढ़ें:  74 साल के हुए राष्ट्रपति कोविंद, छोटे से गांव से लेकर राष्ट्रपति भवन तक पहुंचे ऐसे...

इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) के विधायक हरिचंद मिड्ढा के निधन से यह सीट खालि हुई थी. बीजेपी ने मिड्ढा के बेटे कृष्ण मिड्ढा को यहा से उम्मीदवार घोषित किया था. हरिचंद दो बार इस सीट से विधायक रह चुके थे. कांग्रेस ने पार्टी के वरिष्ठ नेता और कैथल से मौजूदा विधायक रणदीप सुरजेवाला को मैदान में उतारा है वहीं इनेलो ने उमेद सिंह रेढू को उम्मीदवार बनाया है.

इनेलो के टूट कर नई पार्टी बनी जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के लिये भी यह चुनाव महत्वपूर्ण है. जेजेपी ने जेल में बंद अजय सिंह चौटाला के छोटे बेटे दिग्विजय सिंह चौटाला को उम्मीदवार घोषित किया था.

जरुर पढ़ें:  सीएम कमलनाथ ने खेला दांव, बीजेपी की इस सीट से लड़ेंगे चुनाव!

रामगढ़
रामगढ़ विधानसभा सीट के लिए 28 जनवरी को मतदान हुआ था. राजस्थान की कुल 200 में से 199 सीटों पर मतदान सात दिसंबर को हुआ था. बीएसपी प्रत्याशी के निधन के कारण रामगढ़ सीट पर चुनाव स्थगित कर दिया गया था. 2013 के विधानसभा चुनाव में रामगढ़ सीट पर बीजेपी ने जीत दर्ज की थी. रामगढ़ के चुनावी मैदान में 20 उम्मीदवार थे. बीजेपी ने सुखवंत सिंह और बीएसपी ने जगत सिंह को उम्मीदवार बनाया था.

Loading...