सड़क हादसों में दुपहिया वाहन चालकों की सबसे ज्यादा मौते उनके हेलमेट न पहनने की वजह से होती है। इसलिए सरकार से लेकर एनजीओ तक हमेशा सुरक्षा के लिहाज़ से हेलमेट पहनने की सलाह देते नज़र आते हैें, ताकि आप सुरक्षित रह सकें और हादसे के बीच भी आपकी जान बच सके लेकिन एक चौेंकाने वाले मामले में हेलमेट एक शख्स की मौत की वजह बन गया, जीहां जिस हेलमेट को इस शख्स ने अपनी जान बचाने के लिए पहना था, उसी ने उसकी जान ले ली और चौंकाने वाली बात ये, कि ये हेलमेट 50 हज़ार रुपए का था।

जरुर पढ़ें:  जूते से लेकर कार तक सोने की, जान लीजिए कौन हैं ये रईसज़ादा
Rajathan biker Rohit Shekhawat

राजस्थान के जयपुर का रोहित शेखावत बुधवार देर रात जेएलनएन मार्ग से जा रहे थे, रोहित अपनी सुपर फास्ट बाइक पर सवार था। लेकिन कहते हैं, कि इंसान का बुरा वक्त कब आ जाए कुछ नहीं कहा जा सकता है। कब कौन दुनिया छोड़ जाए। ऐसा ही रोहित के साथ हुआ। लेकिन रोहित की मौत का कारण उनके साथ हुई रोड़ दुर्घटना नहीं बल्कि उनका हेलमेट बन गया।

Rajathan biker Rohit Shekhawat

जी हां, रास्ते से जाते हुए रोहित की बाइक दो लोगों से टकरा गई। इस हादसे में रोहित की बाइक काफी दूर तक घिसटते हुए चली गई। इस दौरान रोहित ने अपनी सुरक्षा के लिए हेलमेट पहना रखा था। जिसकी कीमत 50 हजार रुपए थी। लेकिन रोहित का 50,000 का हेलमेट उनकी जान बचा नहीं सका, बल्कि उनकी मौत का कारण बन गया। बता दें, जब रोहित सड़क हादसे में काफी गंभीर हालत में थे, तो उन्हे अस्पताल ले जाया गया। रोहित का 50,000 का हेलमेट कुछ इस तरह डिजाइन था, कि उसे खोलना बेहद मुश्किल था। जिस वक्त रोहित के सिर में चोट लगी थी। उस वक्त रोहित के सर से उस हेलमेट को उतारने की कोशिश की, लेकिन उस हेलमेट को निकाल पाना मुश्किल हो गया था। जिसके बाद हेलमेट को कांटना पड़ा। लेकिन दुख की बात ये रही है, कि जबतक वो हेलमेट निकाला गाया तब तक रोहित अपनी जान गंवा चुका था।

जरुर पढ़ें:  नागा साधुओं के शव को जलाया नहीं जाता, ऐसे होता है अंतिम संस्कार
Rajathan biker Rohit Shekhawat

बता दें, रोहित कई बार सोशल मीडिया पर अपनी सुपर बाइक के साथ फोटो शेयर करता था, उनको बाइक का काफी शौक था। फिलहाल हादसे के बाद उनकी बाइक के सेफ्टी गियर को लेकर भी कई सवाल उठाए जा रहे हैं। रोहित जयपुर में एक नामी कार कंपनी मे सेल्स मैनेजर थे। जिनके महंगे हेलमेट ने उन्हें मौत के घाट उतार दिया।

Loading...