कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के पति और कारोबारी रॉबर्ट वाड्रा वैसे तो लैंड डील करप्शन के आरोपों के चलते हमेशा टार्गेट पर रहते है. लेकिन इस बार राबर्ट ने कुछ ऐसा किया है.. जिसकी वजह से हमेशा आलोचनाओं का सामना करने वाले वाड्रा इस बार तारीफें बटोर रहे हैं..

दरअसल वाड्रा ने दुर्घटना के शिकार हुए एक परिचित व्यक्ति की मदद की थी. अपने इस परोपकार की खबर सबको देने के लिए उन्होंने उस शख्स की तस्वीरें खिंचाई और फेसबुक पर पोस्ट किया. लेकिन तस्वीर क्लिक कराने के लिए फिजिकली चैलेंज्ड व्यक्ति का पैंट भी उतरवा दिया गया.

रॉबर्ट वाड्रा ने जिन्हें मदद की उनका नाम है श्याम लाल. वाड्रा के दिल्ली गोल्फ कोर्स में खेलने के दौरान श्याम लाल पुराने सहयोगी हुआ करते थे. वह गोल्फ कैडी के रूप में काम करते थे और वाड्रा के गोल्फ बैग उठाने सहित अन्य मदद करते थे.

जरुर पढ़ें:  पाकिस्तानी सेना की खुली पोल, पड़ोसी मुल्क से आए लोगों ने की किरकिरी

लेकिन एक दिन घर जाते वक्त श्याम लाल को एक शराबी कार ड्राइवर ने टक्कर मार दी. दुर्घटना में श्याम लाल का एक पैर कट गया. रॉबर्ड वाड्रा ने कहा है कि उन्होंने श्याम लाल को इलाज का खर्च दिया था.

श्याम लाल अपने परिवार में अकेले कमाने वाले थे. उनकी मां भी बीमार रहती थी. श्याम लाल फिर से अपने पैरों पर खड़े हो सकें, इसलिए रॉबर्ड वाड्रा ने उन्हें आर्टिफिशियल पैर खरीदने में मदद की

इसके बाद श्याम लाल वापस गोल्फ कोर्स में काम भी करने लगे. रॉबर्ड वाड्रा ने लिखा- ”श्याम लाल को देखकर अच्छा लगता है. मेरे लिए सबसे महत्वपूर्ण है कि वह फिर से खुश हैं और अपने परिवार के लिए कमा रहे हैं.”

जरुर पढ़ें:  नवीन पटनायक का बड़ा ऐलान, चुनाव के लिए 33 फीसदी टिकट महिलाओं के लिए आरक्षित

रॉबर्ट वाड्रा ने फेसबुक पोस्ट में यह भी अपील की कि जिंदगी में बैंलेंस रखना चाहिए. गरीब और हमें मदद करने वाले लोगों को जरूरत पड़ने पर वापस मदद करनी चाहिए. उनकी दुआ हमें स्वस्थ और खुश रखती है.

फेसबुक पर काफी लोगों ने रॉबर्ट वाड्रा की तारीफ की है. राकेश चौहान नाम के व्यक्ति ने फेसबुक पर कमेन्ट करते हुए लिखा- ‘रॉबर्ट वाड्रा जी सिर्फ कहते ही नहीं करते भी हैं और यही उनकी कार्यशैली है. जरूरतमंद लोगों के काम आना उनकी पहचान है और समय-समय पर उन्होंने गरीबों और जरूरतमंदों की मदद कर कर समाज के लिए एक नेक काम किया है इसके लिए उन्हें हमें सैल्यूट करना चाहिए.

Loading...