पंजाब के कैबिनेट मंत्री और कांग्रेस के स्टार प्रचारक नवजोत सिंह सिद्धू इन दिनों खासी चर्चाओं का विषय बने हुए हैं. हाल ही में सिद्धू को लेकर खबर आई थी कि ज्यादा भाषण के चलते उनका गला खराब हो गया है और अवाज बंद हो गई है. और डॉक्‍टरों ने उनको आराम करने और पूरी तरह चुप रहने का कहा है. लेकिन, सिद्धू अगले ही दिन कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा की रैली में भाषण करते नजर आए. सिद्धू अपने अंदाज में बोले और विरोधियों पर जमकर बरसे व ठोको ताली-ठोको ताली कहते नजर आए.

यही नहीं, उनकी पत्नी ने भी कहा था कि सिद्धू पंजाब में प्रचार नहीं करेंगे, लेकिन मंगलवार को सिद्धू कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी के साथ बठिंडा रैली में पहुंचे और संबोधित भी किया. जहां उनका अलग ही अंदाज देखने को मिला.

जरुर पढ़ें:  अनुश्री की ट्रेन डायरी- मुंबई लोकल में महिलाएं ऐसी जीती हैं लाइफ

सिद्धू के कार्यालय की ओर से भी कहा गया था कि देश भर में 80 रैलियों को संबोधित करने के कारण उनके वोकल कॉर्ड में समस्या आ गई है. मंगलवार को सिद्धू न सिर्फ बठिंडा में बोले बल्कि उन्होंने बादलों के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली. उनके जोश से कहीं भी ऐसा नहीं लग रहा था कि उनके वोकल कॉर्ड में समस्या है.

दूसरी ओर, पंजाब कांग्रेस अभी तक उन्हें राज्‍य में चुनाव प्रदेश में प्रचार से दूर रखे हुए थी. यही कारण है कि ने कांग्रेस की पंजाब प्रभारी आशा कुमारी पर आरोप लगाया थे कि वह उन्हें पंजाब में चुनाव प्रचार से रोक रही हैं.

जरुर पढ़ें:  सुप्रीम कोर्ट ने धारा 497 की खत्म, व्याभिचार अब अपराध नहीं

मंगलवार को तस्वीर उस समय बदली जब दिल्ली में प्रियंका ने सिद्धू को बुलाया और बैठक की. उन्हें पंजाब चलने के लिए कहा. इस बैठक में राहुल गांधी भी मौजूद थे. सिद्धू पंजाब में प्रचार नहीं करना चाहते थे लेकिन प्रियंका के कहने पर वे बठिंडा व पठानकोट पहुंचे. प्रियंका का पंजाब में यह पहला दौरा था. सिद्धू प्रियंका के गुड बुक में शामिल हैं. प्रियंका के प्रयास से ही सिद्धू ने कांग्रेस ज्वाइन की थी.

वहीं बठिंडा रैली में सिद्धू और मुख्‍यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के बीच दूरियां साफ नजर आई. सिद्धू ने न तो कैप्टन की तरफ देखा और न ही उनसे बात की. 17 मई को बठिंडा में दौरा करने को लेकर उन्होंने कहा कि अगर यहां से प्रत्याशी राजा वडिंग कहेंगे तो वह उस दिन 10 रैलियां करेंगे. अपने भाषण में उन्होंने बादलों पर जमकर हमला बोला. हालांकि आज वित्त मंत्री मनप्रीत बादल व राजा वडि़ंग के कहने पर भी वह बोलने को तैयार नहीं थे. जब प्रियंका ने बोलने के लिए कहा तब तैयार हुए.

जरुर पढ़ें:  नैशनल हराल्ड, एजेएल मुद्दे पर हाई कोर्ट का फैसला, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के लिए बुरी खबर

 

Loading...
पत्रकारिता में स्नातक की उपाधि लेने के बाद, आकाश ने मीडिया जगत की तरफ रुख किया। पढ़ने और लेखन का पुराना शौक, उन्हें 'कलम से कमाल' करने में माहिर बनाता है। TVP के लिए एक स्वच्छंद पत्रकार के तौर पर आकाश लगातार Trending Viral Post के पाठकों के लिए लिख रहे हैं।