टिकट नहीं मिला तो विधायक जी उठा ले गए 300 कुर्सियां !

टिकट ना मिलने पर विधायक जी का गुस्सा ।

2019 के लोकसभा चुनाव में महज कुछ ही दिन बाकी है ऐसे में चुनाव प्रचार का सिलसिला जोर पकड़ता जा रहा है सभी पार्टियां चुनावी तैयारी में जुट गई है. ऐसे में पार्टियों ने अपने- अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा करना भी शुरु कर दिया हैं. चुनाव है तो प्रचार का सिलसिला भी होगा कई नए उम्मीदवार मैदान में उतरेंगे तो कई पुराने चेहरों को मैदान छोड़कर जाना भी पड़ेगा. लेकिन चुनाव के इस महौल में जिन विधायकों को टिकट नहीं मिलते वो नाराज होने के साथ-साथ बागी भी हो जाते हैं. कई दफा तो ऐसे बागी नेता पार्टी छोड़ देते हैं या फिर निर्दलीय दावेदारी ठोककर अपनी पार्टी को परेशानी में डाल देते है. लेकिन इसी बीच एक विधायक का अजीबों- गरीब गुस्सा देखने को मिला ।

जरुर पढ़ें:  नवरात्र के पांचवे दिन मां दुर्गा के पांचवे स्वरुप स्कंदमाता की उपासना की जाती है

टिकट ना मिलने पर विधायक जी का फूटा गुस्सा !

जी हां ये जनाब है महाराष्ट्र से कांग्रेस के विधायक इन विधायक साहब को चुनावी टिकट ना मिलने पर गुस्सा इतना था कि उन्होनें तो हद ही पार कर दी, विधायक अब्दुल सत्तार ने अपने समर्थकों की मदद से पार्टी के कार्यालय से 300 कुर्सियां ही उठवा लीं ।

अब्दुल सत्तार महाराष्ट्र के औरंगाबाद के सिलोद विधानसभा क्षेत्र से विधायक थे. उन्होंने बताया कि वो अब कांग्रेस पार्टी छोड़ चुके हैं और साथ ही उन्होंने कहा कि ‘मेरा सामान था तो मेरा ले जाना सही है.’ उनका गुस्सा इस कदर था कि वो अपने समर्थकों के साथ एक- दो कुर्सी नहीं बल्कि 300 कुर्सियां उठा ले गए. उन्होंने यह दावा भी किया कि कुर्सियां उन्हीं की है लेकिन इस सीट पर विधान परिषद सदस्य सुभाष झंबाद को टिकट दे दिया गया जिससे सत्तार शायद नाराज हो गए और उन्होंने पार्टी छोड़ना का फैसला किया ।

जरुर पढ़ें:  पीएम मोदी के बड़े भाई की पत्नी का हार्ट अटैक से निधन..

हर बार की तरह इस बार भी लोकसभा चुनाव को लेकर हर दल में टिकटों के दावेदारों की लंबी फौज है. जिनको टिकट मिल जाता है वो तो खुश हो जाते हैं, लेकिन जिन्हें टिकट नहीं मिलता वो पार्टी से बागी रुख एखतियार कर कर लेते है ।

Loading...