सोशल मीडिया पर रोज नए- नए कंटेंट तो हम देखते ही है जिसमें कुछ ऐसे भी होते है जो किसी कि धर्मिक अस्था से जुड़े होते है और जिनसे समाज में नफरत और हिंसक माहौल पैदा होता है. इन सब पर लगाम लगाने के लिए सोशल मीडिया के दिग्गज नेटवर्क फेसबुक ने एक बड़ा ऐलान किया है. इसके तहत अब फेसबुक से White Nationalism और Separatism बैन कर दिया जाएगा. ये फैसला फेसबुक ने न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च आतंकी हमले के बाद लिया है जहां एक शूटर ने मस्जिद में घुस कर 50 लोगों की हत्या कर दी थी.


फेसबुक ने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा है, ‘नई पॉलिसी के तहत फेसबुकर इंस्टाग्राम से श्वेत राष्ट्रवाद (White Nationalism) और अलगाववाद (Separatism) की प्रशंसा, समर्थन और प्रतिनिधित्व को बैंन किया जा रहा है और ये अगले हफ्ते से लागू होगा’.

जरुर पढ़ें:  मोदी सरकार को मिली बड़ी सफलता लंदन कोर्ट ने माल्या को भारत भेजने की दी मंजूरी!

फेसबुक ने कहा- है कि यह साफ है कि इस तरह के कॉन्सेप्ट पूरी तरह से ऑर्गनाइज्ड हेट ग्रुप्स के साथ लिंक्ड होते हैं और हमारी सर्विस में इनके लिए कोई जगह नहीं है.
फसबुक ने इस तरह के कॉन्टेंट बैन करने से पहले इस तरह के ऑर्गनाइजेशन का रिव्यू किया है और इसे खतरनाक बताया है. फेसबुक ने कहा – है कि लोग अभी भी अपने धर्म को लेकर गर्व का प्रदर्शन कर सकते हैं, लेकिन श्वेत राष्ट्रवाद और श्वेत अलगाववाद के लिए प्रशंसा या समर्थन बर्दाश्त नहीं किया जाएगा ।

फेसबुक ने ये फैसला समाज में हिंसक माहौल को पैदा होने से रोकना के लिए लिया है , ताकि लोग फेसबुक का गलत इस्तेमाल ना कर सके..

Loading...