वर्ल्ड स्टूडेंट डे हर साल की तरह आज पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम के जन्मदिन पर उनकी याद में वर्ल्ड स्टूडेंट डे मनाया जा रहा है। कलाम ने बच्चों की शिक्षा पर काफी जोर दिया और उन्हें बच्चों से काफी लगाव था। कलाम एक जाने माने प्रसिद्ध वैज्ञानिक थे। उनके मिसाइल डिफेंस प्रोग्राम ने पूरी दुनिया में भारत का सिर गर्व से ऊंचा कर दिया। यही वजह है कि उन्हें भारत का मिसाइल मैन भी कहा जाता है। लेकिन बच्चों को पढ़ाना उनका पसंदीदा काम था।

कलाम ने 1998 में पोखरण -2 परमाणु परीक्षण में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी। इसके बाद ही उन्हें मिसाइल मैन का टाइटल मिला। साल 2005 में कलाम स्विट्जर्लैंड गए जिसके बाद देश ने 26 मई को 26 विज्ञान दिवस के रूप में मनाया जाने लगा और उनके इस टूर को भी काफी चर्चा मिली।

जरुर पढ़ें:  कोबरा ने अपना बदला लेने के लिए जो किया, वो आपको हैरान कर देगा !

कलाम को उनके किए गए महान काम और योगदान के लिए कई महत्वपूर्ण पुरस्कार भी मिले। सरकार ने उन्हें 1981 में पद्म भूषण और 1990 में पद्म विभूषण से नवाजा। इसके बाद उन्हें भारत रत्न से सम्मानित किया गया। अनुसंधान में उनके योगदान, विज्ञान के क्षेत्र के साथ-साथ भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) और रक्षा अनुसंधान के लिए उन्हें भारत रत्न से सम्मानित किया गया था।

VK News

Loading...