कहते हैं, इंसान से एक बीवी संभाली नहीं जाती, लेकिन इस दुनिया में कई मुल्क ऐसे हैं, जहां लोग 4-4 बीवियां रख सकते हैं और वे रखते भी हैं। यहां तक तो ठीक है। किसी किसी के नाजायज संबंध भी होते हैं, एक्स्ट्रामेरिटीयल अफेयर या गर्लफ्रेंड लेकिन कितने, ज्यादा से ज्यादा 10 या 50 इससे ज्यादा किसी व्यक्ति के संबंध तो नहीं हो सकते। लेकिन एक देश के पूर्व राष्ट्रपति ऐसे हैं, जिन्होंने पैंतीस हज़ार से ज्यादा महिलाओं के साथ संबंध बनाए हैं। सुनकर आपका दिमाग घूम गया होगा लेकिन ये सच है।

Cuban president fidel castro

सेक्स और नाजायज संबंध दोनों ही भारत में टैबू रहे हैं और लोग इन दोनों को कामों को चोरी-छिपे ही अंजाम देते हैं, लेकिन एक देश के पूर्व राष्ट्रपति ने ये काम चोरी छिपे नहीं बल्कि सार्वजनिक तौर पर किया और उन्होंने कबूल भी किया, कि उनकी 35000 औरतों से सेक्शुअल रिलेशनलशिप थी। ये खुलासा इनपर बनी एक डाक्युमेंट्री फिल्म में हुआ है। उन्होंने इस बात का खुलासा खुद इस फिल्म में किया है और कबूल किया, कि 35000 महिलाओं के साथ उन्होंने सेक्स किया था।

जरुर पढ़ें:  Budget 2019: आदमी को सरकार की तरफ से बड़ा तोहफा, 5 लाख तक का इनकम टैक्स फ्री

बता दें, कि ये शख्स क्यूबा के पूर्व राष्ट्रपति फिदेल कास्त्रों थे, जिनकी 90 साल की उम्र में मौत ही गई थी। फिदेल कास्त्रो 1959 में क्रांति के जरिए अमेरिकी पिटठू फुल्गेंकियों बतिस्ता की तानाशाही को उखाड़ फेंक सत्ता में आए थे। उन्हें कम्युनिस्ट क्यूबा का जनक माना जाता था और इनकी जिन्दगी के कई किस्से मशहूर हैं, जिसने सबको हैरानी में डाल दिया है।

फिदेल कास्त्रो की बीती जिन्दगी

फिदेल कास्त्रो क्रांति से पहले एक युवा वकील थे, उनकी पहचान एक आम वकील की तरह ही थी। फिदेल का जन्म 1926 में क्यूबा के फिदेल अलेजांद्रो कास्त्रो परिवार में हुआ था। क्रांति से पहले वो 1952 में तानाशाह के खिलाफ 1952 के चुनाव में खड़े हुए थे, लेकिन उस वक्त वो वोट मांगते इससे पहले ही वोटिंग खत्म कर दी गई। इसी दौरान जनक्रांति शुरु करने के इरादे से 26 जुलाई को फिदेल कास्त्रो ने अपने 100 साथियों के साथ सैंटियागो डी क्यूबा में सैनिक बैरक पर हमला किया, लेकिन वो नाकाम रहे।

जरुर पढ़ें:  'इंदू सरकार' तो रिलीज़ हो गई, लेकिन इस फिल्म की तो रील ही जला दी गई थी
Cuban president Fidel Castro

इस हमले में फिदेल कास्त्रो और उनके भाई राउल दोनों बच गए थे, लेकिन बाकी सभी लोगों को जेल में डाल दिया गया। हालांकी इस हार के बाद भी उन्होंने जिद नहीं छोड़ी और बतिस्ता शासन के खिलाफ अपनी लडाई को जारी रखा। इस अभियान को उन्होंने मैक्सिको से चलाया और वहीं से छापामार संगठन बनाकर इस काम में जुटे रहे। इसे 26 जुलाई मूवमेंट नाम दिया गया था। कास्त्रो के क्रातिंकारी आदर्शों को क्यूबा में काफी समर्थन मिला। इसके बाद 1959 में उनके संगठन ने बतिस्ता शासन को पलट दिया और खुद प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति बन गए। कास्त्रों ने दावा किया था, कि उन्हें 634 बार जान से मारने की कोशिश की गई थी।

35,000 औरतों के साथ किया सेक्स

क्यूबा के क्रांतिकारी नेता फिदेल कास्त्रों ने अपने जीवन में कई सघर्ष देखे, लेकिन अपनी मुश्किल भरी जिन्दगी में उन्होंने 82 साल की उम्र तक 35000 महिलाओं के साथ संबध बनाए थे। इस बात का दावा उनपर बनी डॉक्यूमेंट्री ने किया गया और न्यूयॉर्क पोस्ट में भी इस बात का जिक्र किया था, कि कास्त्रो रोजाना दिन में करीब दो महिलाओं के साथ संबध बनाते थे, और ऐसा कई दशकों तक चलता रहा।

जरुर पढ़ें:  हिन्दू परिवार में जन्मी ये किन्नर, मुसलमान बनकर हज किया अब महामंडलेश्वर है

कास्त्रों का परिवार

फिदेल कास्त्रो ने दो-दो शादियां की थीं। पहली पत्नी मीरटा जाएज बलार्ट से उन्होंने 11 अक्टूबर 1948 को शादी की थी। मीरटा से उहें एक बेटा फिदेल एंजेल फिदेलीटो है, जिसका जन्म 1 सितबंर 1949 को हुआ था, जो हुबाहू कास्त्रो की तरह ही दिखता है। 1955 में जाएज बलार्ट और कास्त्रो का तलाक हो गया और उन्होंने एमिलियो नुनेज ब्लांको से दूसरी शादी की। बता दें, कि कास्त्रो के कुल 8 बच्चे हैं, उनका बडा बेटा फिदेलिटो के नाम मशहूर न्यूक्लियर साइंटिस्ट हैं।

Cuban president Fidel Castro and his children

कास्त्रो की बेटी हवाना की शादी सोशलाइट से हुई, उनकी बेटी एलिना फर्नांडिस ने अपने मियामी रेडियो प्रोग्राम से खुद कास्त्रो की अलोचना की थी। कास्त्रो की दूसरी पत्नी डालिया सोटो से पांच और बेटे हैं, और खास बात ये है, कि उन सभी के नाम A से शुरु होते है, छोटा बेटा एंटोनियो नेशनल बेसबॉल टीम के डॉक्टर हैं।

Loading...