ब्रांडेड कपड़े, जूते पहनना किसे पसंद नहीं होता। लेकिन इनकी कीमतों की वजह से आम इंसान के लिए इन्हें खरीदना नामुमकिन सा हो जाता है। लेकिन इस देश में कुछ मार्केट ऐसे हैं, जहां ये सामान आपकी पहुंच में आ सकते हैं। लेकिन इन बाज़ारों का पता सबको नहीं होता। आज हम आपको ऐसे ही एक बाज़ार के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां आपको ये ब्रांडेड सामान आधे से भी कम दामों पर मिल जाएंगे।

Secret market

मुंबई की डेढ़ गली, यही वो जगह है, जहां पर ये सीक्रेट मार्केट लगता है। इस मार्केट की खास बात ये है, कि ये रात के अंधेरे में खुलता है और सुबह सूरज की रौशनी तेज होते ही बंद हो जाता है। इस गली में लगने वाले मार्केट में आपको ब्रांडेड चीजें कम कीमतों पर आसानी से मिल सकती है। इस गली में लगने वाले मार्केट को मुंबई की आम भाषा में सीक्रेट मार्केट ही कहां जाता हैं। रात के 4 बजते ही ये गली लोगों के शोर से गूंजने लगती है और चांद की रोशनी में इस तरह जगमगाती है, कि इसका का नज़ारा देखते ही बनता है। यहां अंधेरी रात में सैकड़ों की तादात में व्यापारी और खरीदार आते हैं।

जरुर पढ़ें:  'जवान और खूबसूरत' दिखने की मिली सजा, पुलिस ने महिला को किया गिरफ्तार
Secret market

ये है बाज़ार की खासियत

वैसे तो ये बाज़ार आम बाज़ारों की तरह ही है, मगर इस बाज़र की दो खास बातें हैं, पहली तो ये बाज़ार सुबह 4 बजे से लगना शुरु होता है और सुबह के 8 बज़े तक खत्म हो जाता है, और दूसरी खास बात है कि यहां मिलने वाले ब्रांडेड सामान की कीमत उसकी असली कीमत से कहीं कम होती है।

Secret market morning

ये मार्केट मुंबंई के कामठीपुरा इलाके की डेढ़ गली में लगता है, कहते है कि इस बाज़ार की शुरुआत 1950 में हुई थी, और उस वक्त ये बाज़ार शुक्रवार के दिन ही लगा करता था, मगर आज के दौर में ये बाज़ार शुक्रवार और गुरुवार दो दिन लगने लगा है।

जरुर पढ़ें:  इस खूबसूरत लड़की को नहीं मिला परफेक्ट पार्टनर तो खुद से ही रचा ली शादी

बिकता था सिर्फ चोरी का सामान

एक समय इस बाज़ार में सिर्फ चोरी का सामान ही बिकता था, इसलिए ये मार्केट रात के वक्त लगा करता था। लेकिन मार्केट में आने वाले लोगों की तादात बढ़ने के बाद अब इसमें हर तरह के ब्रांडेड सामान मिलने लगे हैं। हालांकि अभी  भी यहां चोरी किए हुऐ जूते बिकने के लिए आते हैं। इसीलिए ये मार्केट जूतों के लिए खासतौर पर जाना जाता है। हर हफ्ते यहां आने वाले व्यापारी इस मार्केट से 15 से 20 करोड़ रुपये तक कमा कर ले जाते हैं।

Loading...