जिंदगी क्या होती है ये उससे पूछा जाए जो मौत के मुंह से वापस आया हो, जिसने महसूस किया हो कि इसका हर वो पल कितना खूबसूरत है जिसे हम यूं ही दुनिया भर की टेंशन में गवां देते हैं. तो शायद जिंदगी के सही मायने हमें पता चल जाएं. आज इसी जिंदगी को जीने की मिसाल पेश कर रही हैं 11 साल की अंजलि. जो इंटरनेट पर सेंसेशन बन गई हैं.

उम्र कम है लेकिन हिम्मत और हौसला किसी शूरवीर से कम नहीं. ये कहानी ऐसी है जो आपका दिल छू जाएगी. अभी वीडियो में आपने जिस लड़की को डांस करते हुए देखा वहीं अंजलि है. जो एक पैर पर दो पैर जैसे आत्मविश्वास के साथ खुद को पेश कर रही है. कोलकाता में आयोजित मेडिकल कॉन्फ्रेंस में अंजलि ने एक्ट्रेस विद्य़ा बालने के फेमस सॉन्ग मेरे ढोलना सुन पर परफॉर्म किया. एक पैर पर अंजलि ने कथक और चक्कर का बेजोड़ तालमेल दिखाते हुए डांस किया जिसे देख वहां मौजूद सभी लोगों को हैरान रह गए. अंजलि ने ऐसा डांस किया जिसने सबको एक बार फिर से सुधा चंद्रन की याद दिला दी.

जरुर पढ़ें:  भारत का वो जादूगर जिसके एक करतब ने ब्रिटेन को डरा दिया था

सुधा चंद्रन इसलिए क्योंकि अंजलि की कहानी भी इनके काफी कारीब है. इस जिंदादिल लड़की के बारे में आप अगर जानेंगे,  तो आप भी उसकी हिम्मत को सलाम करेंगे.

दरउसल एक समय ऐसा था जब 11 साल की अंजलि जिंदगी और मौत से जूझ रही थी. क्योंकि उसे जानलेवा कैंसर था. इसी वजह से उसे अपना एक पैर गंवाना पड़ा. लेकिन बावजूद इसके अंजलि ने न तो हिम्मत नहीं हारी और ना ही उसके हौसलों में कोई कमी आई.

इस दौरान डॉक्टर और नर्स ने अंजलि को सुधा चंद्रन की कहानी सुनाकर प्रेरित किया. उसे और हिम्मत दी लिहाजा कुछ ही साल में अंजलि बेहतरीन डांसर बनकर उभरी. उसने लोगों की वाहवाही लूटी और उनके दिल जीत लिए. ये बात इस वीडियो के कैप्शन से साफ हो रही है. जिसे डॉक्टर अर्णब गुप्ता रिकॉर्ड करके सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया.

जरुर पढ़ें:  हेडिंग में कलाकारी करने के चक्कर में कर दी गड़बड़

वीडियो वायरल होते ही सोशल मीडिया यूजर्स अंजलि की हिम्मत और जज्बे की जमकर सराहना कर रहे हैं.

VK News

Loading...