छत्तीसगढ़ के रायपुर में हुआ अनोखा सामूहिक विवाह, 15 किन्नर एक साथ बनी दुल्हन..

हर किसी का सपना होता है कि बड़ों के आशिर्वाद और रीतिरिवाज के साथ उसकी शादी हो, उसका घर बसे, हर किसी की चाहत होती है कि उसकी शादी धूमधाम से हो. आपने सामूहिक विवाह के बारे में तो सुना ही होगा. जिसमें कई शादियां एक साथ कराई जाती हैं. छत्तीसगढ़ में भी शादी की ऐसी ही धूमधाम देखने को मिली.

अब आप सोचेंगे कि शादी है तो धूमधाम तो होगी ही और मौज मस्ती भी होगी तो फिर इस शादी में भला क्या अलग है. जी हा रायपुर में हुई ये शादी या यूं कहो कि शादियां, आम शादियों से थोड़ी अलग थी.

जरुर पढ़ें:  100 साल पुराने पेड़ पर बनी ये अनोखी लाइब्रेरी देखी क्या?

शादी का मंडप भी था, सजावट भी थी, दूल्हा भी था और बाराती भी थे लेकिन जिन दुल्हनों से दूल्हों की शादी कराई गई वो कोई आम लड़की नहीं बल्की किन्नर थीं. जी हां, शायद आपको ये सुनकर हैरानी हुई हो, लेकिन ये एक हकीकत है.

ताजा मामला छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर का है जहां दुल्हन बनीं सभी 15 किन्नरों ने पुरुषों के साथ हिंदू रीति-रिवाजों से शादी की. शादी से एक दिन पहले शुक्रवार के दिन सभी किन्नरों की हल्दी, सगाई और संगीत की रस्में भी हुईं. खबरों की माने तो शायद ऐसा पहली बार हुआ है जब किन्नरों की शादी आम पुरुषों से हुई हो.

जरुर पढ़ें:  आंखों से आपके शरीर के अंदर झांक सकती है ये लड़की, जानिये कौन हैं ये

आम लोगों की तरह किन्नरों की बारात भी ढोल-नगाड़ो पर नाच-गाने के साथ ही आई. वहीं इस सामूहिक विवाह को देखने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी थी.

बता दें, पिछले साल 2018 में सितंबर के महीने में सुप्रीम कोर्ट ने समलैंगिकता को अवैध बताने वाली IPC की धारा 377 को वैध करार दिया था. कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला करते हुए LGBT समुदाय को दूसरे नागरिकों के बराबर ही अधिकार दिए थे. इसके बाद से किन्नरों की स्थिति में सुधार आना शुरू हुआ है. किन्नरों को भी अन्य नागरिकों की तरह पूरे अधिकार हैं.

Loading...