ये तस्वीर उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद के एसआरके डिग्री कॉलेज की हैं, जहां प्रिंसिपल मुस्लिम लड़कियों को कॉलेज में बुर्का पहनने पर भगा रहे हैं. वो भी हाथ में छड़ी लेकर. क्योंकि इस डिग्री कॉलेज में बुर्का पहन कर आने पर रोक है. इस पर इन छात्राओं का कहना है कि उनसे कहा जाता है कि वो बुर्क़ा उतार कर कॉलेज में एंट्री करें. कॉलेज में पुलिस का पहरा है. पुलिस बुर्का पहन कर कॉलेज आने वाली लड़कियों को रोक देती है. फिर छात्राओं से कहा जाता है कि बस स्टैंड पर जाकर बुर्का उतारें. इसके बाद कॉलेज में आएं. वहीं, क्लास के अंदर बुर्का उतारने की इजाजत नहीं है.

जरुर पढ़ें:  1 करोड़ 32 लाख में नीलाम हुई ये सीढ़ी, खासियत जानकर आप भी रह जाएगें दंग!

दरअसल एक दो दिन पहले कॉलेज छात्रों के दो गुटों के बीच हुई लड़ाई के बाद कॉलेज प्रशासन ने ये अहम कदम उठाया है. लेकिन कॉलेज के इस सख्त कदम की वजह से तमाम मुस्लिम छात्राओं को परेशानी झेलनी पड़ी.

वहीं, कॉलेज के प्रिंसिपल प्रभासकर राय का कहना है कि ये नियम काफी पुराना है. यहां पर लड़कों को यूनिफॉर्म में आना होता है. कॉलेज में अभी एडमिशन चल रहे थे. ऐसे में इस नियम को कुछ दिनों से सख्ती के साथ पालन नहीं किया जा रहा था. बुर्का कॉलेज के ड्रेस कोड में नहीं आता है. जो कॉलेज प्रशासन की निर्धारित ड्रेस है सिर्फ उसे ही पहन कर कॉलेज में आने की अनुमती दी जाएगी. तो वहीं तमाम बुर्का वाली लड़कियों का कहना है कि वह हमेशा बुर्का में कॉलेज आती हैं, लेकिन अचानक यह नियम लागू कर दिया गया.

Loading...