Subscribe Now

Trending News

Blog Post

गुजरात हिंसा : अल्‍पेश ठाकोर पर हुआ इन धाराओं में मुकदमा दर्ज, कोर्ट इस तारीख को करेगा सुनवाई
देश दुनिया

गुजरात हिंसा : अल्‍पेश ठाकोर पर हुआ इन धाराओं में मुकदमा दर्ज, कोर्ट इस तारीख को करेगा सुनवाई 

हाल ही में गुजरात से गैरगुजरातियों को प्रदेश से निकालने को लकेर कांग्रेस विधायक अल्‍पेश ठाकोर का भड़काने वाला एक विडियो सामने आया था, जिसके चलते अब अल्‍पेश ठाकोर के खिलाफ वाराणसी कोर्ट में मुकदमा दाखिल हो गया. और अल्‍पेश ठाकोर के खिलाफ आईपीसी की धारा 153(A),153 (B), 153(C), 511 और 506 के तहत कोर्ट में मुकदमा दर्ज हो गया. साथ ही कोर्ट इसपर 22 अक्‍टूबर को सुनवाई करेगा.

ठाकोर के खिलाफ वाराणसी कोर्ट में मुकदमा दाखिल

इस सिलसिसे पर रिपोर्ट याचिका कर्ता वकील कमलेश चंद्र त्रिपाठी ने कहा कि गुजरात में उत्तर भारतीयों के खिलाफ अल्‍पेश ठाकोर और अन्‍य कांग्रेसी नेताओं ने जिस तरह से भड़काऊ भाषण दिया हैं. इससे भारतीय संस्‍कृति, भाईचारा और एकता बिगड़ेगी.

बता दें कि गुजरात में उत्तर भारतीय लोगों के खिलाफ हुई हिंसा के लिए कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकोर लगातार आलोचना झेल रहे हैं. जिसके चलते हाल ही में उन्होने ने अहमदाबाद में अपने आवास के पास एक दिन का ‘सद्भावना उपवास’ कार्यक्रम भी आयोजित किया था. अल्पेश ने इसमें यूपी-बिहार के मुख्यमंत्रियों से भी शामिल होने की अपील की. कार्यक्रम में अल्पेश ने कहा था कि उनके गुजरात की छवि खराब की जा रही है, इसलिए वह उपवास कर रहे हैं.

बता दें कि अहमदबाद समेत राज्य के सात जिलों में गैर गुजरातियों पर हुए हमले की घटनाओं में दर्ज 50 एफआईआर में 500 से ज्यादा ठाकोर सेना के सदस्यों के नाम दर्ज हैं, जिसमें 13 पर राजद्रोह का केस लगाया गया है.

दरअसल 28 सितंबर को गुजरात के साबरकांठा में एक 14 महीने की बच्ची से कथित तौर पर बलात्कार के आरोप में बिहार के एक व्यक्ति की गिरफ्तारी की गई थी. जिसके बाद से ही राज्य के कई हिस्सों में जोरदार प्रदर्शन चल रहा है.

इसके साथ ही उत्तर भारतीयों खासकर उत्तर प्रदेश और बिहार के लोगों को शिकार बनाने और सोशल मीडिया पर नफरत भरे संदेश फैलाए जाने का मामला भी सामने आया है. एक रिपोर्ट के अनुसार हमलों के बाद यूपी-बिहार के लोगों में डर इतना बैठ गया कि 20 हजार से ज्यादा लोग गुजरात छोड़ चुके हैं.

Related posts