बचपन में आपने वो कविता तो सुनी होगी, “मछली जल की रानी है, जीवन उसका पानी है, हाथ लगाओ डर जाएगी, बाहर निकालो मर जाएगी” यकीनन आज भी आप इसे भुला नहीं पाए होंगे। इस कविता से आजतक हम यही सीखते और सुनते आए हैं, कि एक मछली बिना पानी जिन्दा नहीं रह सकती है, उसकी लाइफ पानी में शुरु होती है और पानी में ही खत्म होती है। लेकिन अब इस बात को भूलाना होगा, कि पानी के बिना मछलियां जिंदा नहीं रहती हैं। जी हां, आप ये जान कर चौंक जाएंगे, कि मछलियां बिना पानी के भी जिन्दा रहती हैं और वो भी जमीन के अंदर बंजर ज़मीन में।

जरुर पढ़ें:  आज फिर खुलेंगे सबरीमाला के द्वार, अय्पपा का मंदिर किले में हुआ तब्दील

मछलियां कई तरह की होती हैं, ये तो जानते हैं। लेकिन एक पोटेटो फिश भी होती है, ये शायद आज पहली बार जानेंगे। क्योंकि मछली सिर्फ पानी में ही नहीं आलू जैसे खोल के अंदर जमीन में रहती हैं। शायद आपको हमारी बात पर यकीन नहीं हो रहा हो, तो खुद ही देख लीजिए ये वीडियो..

ये वीडियो देखकर आप को यकीन आ गया होगा, कि पोटोटे फिश भी होती है, जो पानी में नहीं जमीन के अंदर जिन्दा रहती है।ये मछली अफ्रीका में पाई जाती है।इस मछली के पंख नहीं होते है बल्कि दो छोटे-छोटे पैर होते हैं और ये आलू की तरह खूद को जमीन में छुपा कर रखती है।

जरुर पढ़ें:  कोरोना से बेहाल रूस, 24 घंटे में 11656 संक्रमित
Mudfish

हालांकि वीडियो में मछली के बारें में कुछ खास जानकारी नहीं दी गई है। लेकिन इन मछलियों को अफ्रीका में मड फिश कहा जाता है। अफ्रीका के लोग इसे पैरों और सिलेंडर पैरों वाली मछली के नाम से भी बुलाते हैं। वही वैज्ञानिकों की भाषा में इसे Protopterus dolloi कहते हैं। कुदरत का ये करिश्मा वाकई हैरान करने वाला है कि इतनी कम नमी में मछली जमीन के नीचे लगभग 5 साल तक जिंदा रहती है।

Support Us

वीके न्यूज़ बिना कार्पोरेट मदद और फंडिग से चलने वाला संस्थान हैं. निष्पक्ष और निर्भीक पत्रकारिता के लिए हमें मदद करें.