Subscribe Now

Trending News

Blog Post

हिन्दी दिवस विशेष- समोसा, जलेबी और गुलाब जामुन नहीं है हिन्दी के शब्द
Demo Pic- Samosa
ग़जब ख़बर

हिन्दी दिवस विशेष- समोसा, जलेबी और गुलाब जामुन नहीं है हिन्दी के शब्द 

भारत में कई चीजें ऐसी हैं, जिनकी कहानी कुछ और ही निकल कर सामने आती हैं। लोगों को लगता है, कि ये भारत की ही देन है। लेकिन असल में उसको देने वाला देश कोई और ही निकलता है, ऐसे ही खाने की फेमस चीजों के कुछ नाम भी हैं, ये पढ़ने, बोलने और सुनने में भले ही हिन्दी हैं, लेकिन असल में वो हिन्दी शब्द नहीं है। जी हां, समोसा, जलेबी और गुबाल जामुन जैसी चीजों के नाम हिन्दी में नहीं है बल्कि किसी और भाषा के हैं। सुनकर आप चौंक गए होंगे, लेकिन ऐसी और भी चीजें हैं, जिनके नाम हिन्दी में नहीं है। हर साल की तरह इस साल भी हिन्दी दिवस 14 सिंतबर को मनाया गया, और आज हम आपको बताएंगे उन खाने की चीजों के नाम जिनके नाम लगते तो, हिन्दी है लेकिन है नहीं।

जलेबी

Demo Pic- Jalebi

जलेबी भारत में सबसे ज्यादा खाई जाने वाली स्वीट डिश है। भारत के देहातों में दूध और जलेबी सबसे ज्यादा पंसद की जाती है, लेकिन आप ये जान हैरान हो जाएंगे, कि जिस जलेबी को आप जलेबी कहते हैं, वो असल में हिन्दी शब्द नहीं है। दरअसल , जलेबी शब्द मूल रुप से अरबी शब्द जलेबिया ने बना है। इतना ही नहीं, पर्शियन में इसे जलेबिया नाम से ही जाना जाता है और भारत की तरह वहां भी ये काफी मशहूर है।

गुलाब जामुन

Demo Pic – Gulab Jamun

इंडिया में अगर हर शादी, हर फंक्शन में कुछ खाने को मिलता है, तो वो होता है गुलाब जामुन, जिसे खाना शायद ही किसी को पसंद न हो। लेकिन क्या आप इस गुलाब जामुन के बारे में ये बात जानते हैं, कि ये शब्द हिन्दी नहीं बल्कि पर्शियन नाम है। जी हां, गुल का मतलब होता है फूल और जामुन होता है पानी। बता दें, कि अरब देशों मे इसे लुकमत-अल-कादी नाम से जाना जाता है।

समोसा

Demo Pic- Samosa

इंडिया में स्ट्रीट फूड में सबसे ज्यादा अगर कुछ खाया जाता है, तो वो है समोसा, भारत की हर नुक्कड़ और गली में समोसे की दुकान आपको मिल जाएगी। बारिश के मौसम में सबसे पहले अगर कुछ ध्यान आता है, तो वो है गर्मा-गर्म सोमसा। लेकिन समोसा शब्द भी हिन्दी का नहीं है। भले ही इसे स्ट्रीट फूड कहा जाता हो, लेकिन ये पर्शियन शब्द है। इतना ही नहीं, समोसा भारत की देन भी नहीं है, ये मध्य एशिया की पहाडियों से गुजरता हुआ जिस क्षेत्र में पंहुचा उसका नाम ईरान है। इसका असली नाम सम्बुसक है, मध्य एशियाई देशों में इसे सोम्सा कहा जाता है और अफ्रिकन देशों में इसे सम्बुसा कहा जाता है।

अनानास

Demo Pic- Pineapple

पाइनएपल को भारत में अनानास कहा जाता है, पाइनएपल इंग्लिश का शब्द है और कहा जाता है, कि अनानास इसका हिन्दी अनुवाद होता है। ये बात ठीक है, लेकिन अनानास कोई हिन्दी शब्द नहीं है बल्कि ये साउथ अमेरिकन शब्द है, कई देशों में इसे अनानास के नाम से ही बोला जाता है।

चाय

Demo Pic-Tea

भारत की गली-गली के कोने पर नज़र आने वाली अगर कोई दुकान होती है, तो उसे चाय की दुकान ही कहा जाता है, क्योंकि एक चाय की दुकान ही भारत में हर जगह दिखाई देती है, लेकिन आप ये जानकर बिलकुल हैरान रह जाएंगे, कि जिस चाय को आप चुस्कियों के साथ पीते है, वो हिन्दी शब्द ‘चाय’ नहीं है। बल्कि ये शब्द चीन से लिया गया है, चीन की मैंडरिन और कैंटनीज भाषा में इसे चा कहते हैं, इसका मतलब होता है चाय की पत्ती।

अचार

Demo Pic- Pickles

कहा जाता है, कि अचार भारत के गांव-गांव की गलियों में बनाया जाने वाला बहुत ही पुराना है, जिसे इग्लिंश में पिकल कहते हैं। लेकिन हिन्दी में कहा जाने वाला अचार हिन्दी का शब्द ही नहीं है, बल्कि ये एक पर्शियन वर्ड है, जिसका मतलब होता है, नमक, सिरका और शहद में अच्छे से मिक्स करके रखे गए फ्रूट और वेजीटेबल।

Related posts